शाकाहार लोग इन स्त्रोत से अपना प्रोटीन पा सकते हैं

Pregnancy diet for vegan and vegetarian expecting moms

शाकाहार लोगों के लिए सबसे बड़ी चिंता का विषय रहता है की वो अपना प्रोटीन कहाँ से लें। हालांकि कुछ जानकार की मानें तो शाकाहारी लोग भी अपना प्रोटीन ले सकते हैं, वो भी शाकाहार से। कुछ पेड़ अन्य पेड़ से ज़्यादा प्रोटीन रखते हैं, और अच्छे से प्रोटीन लेने से आपकी मसल अच्छी हो सकती है, और वज़न अच्छ रह सकता है।

इन 17 खानों से आप अच्छा प्रोटीन ले सकते हैं:

1.सीतन

यह प्रोटीन पाने का काफी अच्छे स्त्रोत है। ये ग्लूटेन से बनता है, गेहूं में मौजूद मुख्य प्रोटीन। सोया से बिलकुल अलग इसका स्वाद काफी अच्छा होता है, और ये दिखने में भी काफी अच्छा होता है। इसे गेहूं का मीट भी कहते हैं, इसमें 25 ग्राम प्रोटीन प्रति 3.5 आउंस होता है। इसमें काफी अच्छी मात्रा में प्रोटीन होता है।

सीतन में आपको अच्छी मात्रा में सेलेनियम भी होता है और इसमें थोड़ा सा आइरन, कैल्सियम और फास्फोरस भी होता है। आपको ये कई स्टोन में मिल सकता है, या आप इसको खुद ही बना सकती हैं। इसे आप फ्राय कर सकती हैं, या भून भी सकती हैं। इसलिए इससे काफी व्यंजन बन सकते हैं। जिन लोगों को सेलिएक बीमारी है उन्हें इससे दूर रहना चाहिए।

कुल मिलाकर सीतन एक मीट की तरह ही है इसमें काफी प्रोटीन होता है और इसे आप आसानी से भी खा सकती हैं।

2.टोफू, टेम्पे और एडमामे

ये तीनों सोयाबीन से पाए जाते हैं। सोयाबीन में काफी मात्रा में प्रोटीन मिलता है। इसका मतलब इससे शरीर को काफी ज़रूरी एमिनो एसिड मिलते हैं।

एडमामे अपरिपक्व सोयाबीन होता है और ये मीठा और थोड़ा सा घाँस के स्वाद का होता है। इन्हें खाने से पहले उबालने या पकाने की ज़रूरत होती है, ये आप सूप या सलाद के रूप में ले सकती हैं।

टोफू और टेम्पे भी काफी अच्छे प्रोटीन के स्त्रोत हैं, टोफू में ज़्यादा टेस्ट नहीं होता, लेकिन ये किसी भी स्वाद में मिल सकते हैं। लेकिन टेम्पे में अपना स्वाद होता है। टोफू और टेम्पे से काफी डिश बन सकती हैं, जिसमें बर्गर से लेकर सूप शामिल है।

इन तीनों में आइरन, कैल्सियम होता है व हर 100 ग्राम में 10-19 ग्राम प्रोटीन होता है। एडमामे में काफी फोलेट, विटामिन के और फाइबर होता है। टेम्पे में अच्छी मात्रा में प्रोबायोटिक्स होते हैं, विटामिन बी व मैग्नीशियम, और फास्फोरस जैसे खनिज भी होते हैं।

कुल मिलाकर टोफू, टेम्पे, व एडमामे सोयाबीन से ही बनते हैं, जिसमें अच्छी मात्रा में प्रोटीन होता है। इसमें अन्य अच्छे खनिज भी होते हैं, और इससे कई डिश बन सकती हैं।