क्या आपको प्रेगनेंसी में बर्गर खाने का कुछ ज़्यादा ही मन करता है? जानें आप इन खाने की इच्छा को कैसे शांत कर सकती हैं

प्रेगनेंसी में कुछ भी खाने का मन करता है, और ऐसा होना काफी नॉर्मल है। कभी कभी आपको बर्गर खाने का मन करेगा या कभी तो आपको आइसक्रीम खाए बिना रहा नहीं जाएगा। तो कुल मिलाकर हम कह सकते हैं की दुनिया में कोई भी परिभाषा बता नहीं सकती की प्रेगनेंट महिलाओं को क्या खाने का मन करेगा, और उनको ये खाने का मन क्यों करता है। ऐसा भी कहीं नहीं लिखा गया है की खाने की इस इच्छा से आपके बच्चे को नुकसान हो सकता है।

हालांकि कुछ स्टडी में बताया गया है की अगर आपके शरीर को सही प्रकार से पोषण नहीं मिल रहा है तो आपको खाने की इच्छा कर सकती है, और ऐसा आपके शरीर में हो रहे हार्मोनल बदलाव की वजह से भी होता है। सभी प्रेगनेंसी में अलग-अलग महिलाओं को अलग-अलग खाने का मन करता है। कभी कभी कुछ महिलाएं मिट्टी, चिकनी मिट्टी, या चौक खाती हैं। इस स्थिति को पीका कहते हैं जिसका मतलब है की आपके अंदर आइरन की कमी है। हालांकि इन्हें खाने से नुकसान हो सकते हैं, और आपके बच्चे को पोषण नहीं मिलेगा।

शराब लेने से आपको और आपके बच्चे को दिक्कत हो सकती है, इसलिए आपको इससे दूर रहना चाहिए।

आप इन कुछ दिए गए तरीकों से खाने की अजीब इच्छा से बच सकती हैं:

आपको हमेशा संतुलित आहार लेना है, जैसे फल, सब्जी, दूध से बने उत्पाद, वो खाना जिसमें काफी मात्रा में प्रोटीन हो। इससे आप स्वस्थ रहेंगी और आपके स्वस्थ रहने पर आपका बच्चा भी स्वस्थ रहेगा।

आपको नियमित रूप से खाना है। यदि आप हर आधे घंटे में खा रही हैं तो इससे आपका ब्लड शुगर कम होने से बच सकता है।

आपको चिप्स खाना है? आप चिप्स खा सकती हैं, बस आपको ये देखना है की वो चिप्स पके हुए हों। आपको वसा की की मात्रा कम से कम लेनी है। हो सके तो आप फ्लेवर वाली दही यानी योगर्ट ले सकती हैं, ये आइसक्रीम का अच्छा विकल्प है।

आपको नियमित रूप से एक्सर्साइज़ करनी है। आपको नियमित एक्सर्साइज़ करनी है ताकि आपका शरीर सभी प्रकार के पोषण तत्व सही तरीके से ले सके।

आपको ये भी ध्यान में रखना है की आप प्रेगनेंसी के दौरान कुछ ज़्यादा ही वज़न न बढ़ा लें इससे आपको प्रीक्लेम्सिया हो सकता है, एक ऐसी स्थिति जहां प्रेगनेंट महिला का ब्लड प्रैशर कुछ ज़्यादा ही बढ़ जाता है। इन सब सुझाव के बाद भी अगर आपको कोई दुविधा हो तो आपको हमेशा अपने डॉक्टर से बात करनी चाहिए।

प्रेगनेंसी से जुड़ी और जानकारी के लिए हमारी एंगों हेल्थ एप यहाँ डाउनलोड करें।