सावधान: इस विटामिन को ज़्यादा लेने से आपको सुन्नता या तंत्रिका में क्षति हो सकती है!

Pyridoxine during pregnancy

आपको प्रेगनेंसी में विटामिन बी6 की ज़रूरत क्यों होती है?

विटामिन बी6 को पीरीडोक्सिन भी कहते हैं, ये आपके बच्चे के दिमाग और तंत्रिका तंत्र के विकास के लिए काफी अहम होता है। विटामिन बी6 से आपके बच्चे को प्रोटीन को चयपचय करने में मदद मिलती है।

कई अध्यन से पता चला है की अधिक विटामिन बी6 से जी मिचलने और उल्टी की समस्या से निजात मिलता है, हालांकि इसकी पूरी तरह से पुष्टि नहीं हुई है।

इससे आपके शरीर को नए लाल रक्त कोशिका बनाने में मदद मिलती है, इससे एंटीबॉडी बनती है। आपको सलाह दी जाती है की आप प्रेगनेंसी में दिन में 1.9 मिलीग्राम विटामिन बी6 लें।

खाने में इन स्त्रोत से मिलता है विटामिन बी6

नट, मछली, और पतले मीट में अच्छी मात्रा में विटामिन बी6 होता है। फोर्टीफाइड ब्रेड, और सेरियल में भी अच्छी मात्रा में विटामिन बी6 मिलता है।

नीचे दिए गई चीजों में अच्छी मात्रा में विटामिन बी6 मिलता है:

एक आधा पका हुआ आलू

एक आधा एवेकेडो

85 ग्राम हल्का चिकन मीट, पका हुआ

1 कप नाश्ते का सेरियल

85 ग्राम सैल्मन, पकी हुई

एक कप पालक

एक आधा बनाना

एक कप सूखे हुए आलूबुखारे

28 ग्राम हेजलनट

170 ग्राम सब्जियों का जूस

नोट: 85 ग्राम मीट और मछली ताश की गड्डी के बराबर होती है।

क्या मुझे विटामिन बी6 सप्लिमेंट लेने चाहिए?

आपको कई प्रकार के आहार से विटामिन बी6 मिल सकता है। कई प्रसव पूर्व के विटामिन में 100 परसेंट प्रस्तावित खुराक होती है।

अगर आपको जी मिचलने की समस्या हो रही है, तो बी6 सप्लिमेंट लेने से पहले आपको अपने डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए। इस समय कुछ ज़्यादा ही सप्लिमेंट ना लें, इससे आपको और आपके बच्चे को नुकसान हो सकता है।

कुछ मल्टीविटामिन में भी विटामिन बी6 होता है। यदि आप काफी मात्रा में फोर्टीफाइड खाना ले रहे हैं तो आपको अच्छी मात्रा में विटामिन बी6 मिल सकता है। अधिक मात्रा में विटामिन बी6 लेने से आपको सुन्नता या तंत्रिका को नुकसान हो सकता है।

यदि आपको जीभ में जलन हो, डिप्रेशन, या एनीमिया हो तो आपको विटामिन बी6 की कमी हो सकती है। थोड़ी सी कमी कहीं भी हो सकती है, लेकिन कम ही लोगों में काफी कमी पाई जाती है।