थकावट और कमजोरी महसूस कर रहे हैं? इस विटामिन की कमी से ऐसा हो सकता है!

Vitamin B5 during pregnancy

आपको विटामिन बी5 की प्रेगनेंसी में क्यों ज़रूरत होती है?

विटामिन बी5 को पेन्टोथेनीक भी कहते हैं, ये हार्मोन्स और कोलेस्ट्रॉल के उत्पादन के लिए काफी अहम है। ये कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन और वसा को लेने में काफी ज़रूरी है। ये कोशिका में काफी केमिकल रिएक्शन के लिए अहम है। आपको प्रेगनेंसी में हर दिन 6 मिलीग्राम विटामिन बी5 लेना चाहिए।

इन खानों में विटामिन बी5 पाया जाता है:

850 ग्राम सूरजमुखी के बीज, सुखे और भुने

230 ग्राम बिना वसा वाला प्लेन योगर्ट

85 ग्राम लोब्स्टर पका हुआ

आधा मीडियम एवेकेडो

एक पका हुआ मीठा आलू

एक कप दूध

85 ग्राम हल्का चिकन, पका हुआ

एक बड़ा अंडा, सही से पका हुआ

आधा कप चीज़

आधा कप मसूर, पकी हुई

आधा कप मटर, पका हुआ

एक आउंस मूँगफली

आधा कप हरी फूल गोभी, कटी हुई

एक मीडियम संतरा: 0.30 मिलीग्राम

एक टुकड़ा अनाज वाली ब्रेड: 0.21 मिलीग्राम

नोट: 85 ग्राम मीट का आकार ताश की गड्डी जितना होता है।

क्या मुझे विटामिन बी5 सप्लिमेंट लेने चाहिए?

आपको शायद इसके लिए किसी सप्लिमेंट लेने की ज़रूरत नहीं पड़ेगी, क्योंकि ये कई प्रकार की खाने की चीजों में मिलता है। ये प्रसव पूर्व के कई सप्लिमेंट में भी मिलता है।

विटामिन बी5 की कमी काफी दुर्लभ है। ये तभी दिखती है जब किसी के अंदर पोषण की कमी काफी ज़्यादा हो। विटामिन बी5 की कमी से आपको थकान और कमजोरी हो सकती है।