डॉक्टर डेस्क: अपने हाथों को सुन्न महसूस कर रही हैं? यह कार्पल टनल सिंड्रोम हो सकता है

Carpal Tunnel Syndrome in Pregnancy

कार्पल टनल सिंड्रोम एक मेडिकल स्थिति है, जो बीच की नस दबने की वजह से होती है, यह नस कार्पल(कलाई) टनल में आपकी कलाइयों से होकर गुजरती है, और इसे दबाने पर सुन्नता महसूस होती है। प्रेगनेंसी के दौरान माँ का खून 50% तक घाड़ा हो सकता है। शरीर में मौजूद फालतू द्रव(जिसे आडिम कहा जाता है) से माँ को कार्पल टनल सिंड्रोम होने की संभावना और ज़्यादा रहती है, क्योंकि फालतू द्रव की वजह से इस नस पर दबाव बनता है। हाथ में दर्द, सिरहन, और सुन्नता कार्पल टनल सिंड्रोम की उपस्थिती के लक्षण हो सकते हैं। इस दौरान दर्द कलाइयों में महसूस किया जा सकता है, और हो सकता है की यह हाथों में ऊपर तक बढ़े। दिनभर किए गए काम की वजह से रात के समय यह सब लक्षण शायद और बढ़ जाएँ।

इसके लक्षणों की एक विस्तृत लिस्ट(ज़्यादातर हाथ और उंगली में महसूस होता है):

  • ऐसा लगता है जैसे किसी ने पिन या सुईं चुभा दी हो
  • जलने का अहसास
  • दर्द
  • पीड़ा
  • पकड़ कमजोर होती है, खासकर उंगली और अंगूठे से
  • उंगली/अंगूठे में सूजन
  • स्थिति बिगड़ने पर सुन्नता बढ़ती है
  • जहां समस्या होती है वहाँ त्वचा सूख जाती है

 

मौटे तौर पर 60% गर्भवती महिलाएं इस समस्या का सामना करती हैं। यह समस्या आमतौर पर दूसरी/तीसरी तिमाही में सामने आती है, खासकर 24वें हफ्ते के बाद।

ज़्यादातर समय स्थिति ज़्यादा गंभीर नहीं होती, और बच्चे के पैदा होने के बाद समस्या अपने आप चली जाती है। कुछ महिलाओं में बच्चा पैदा होने के कई महीने बाद भी यह समस्या होती है, ऐसा होने पर आपको अपने डॉक्टर से मिलना चाहिए।

दर्द कम करने के तरीके

  • हाथों पर ज़्यादा दबाव नहीं डालें। इसका मतलब है की आपको अपने हाथ के बल नहीं सोना है, इससे हाथ पर भार नहीं पड़ेगा।
  • अगर दर्द महसूस हो, तो सिरहन कम होने तक हाथों को हिलाना मददगार साबित हो सकता है
  • हाथों को एक ही अवस्था में रखने से बचिए
  • हाथों/उँगलियों के खिंचाव से भी मदद मिल सकती है
  • हाथ से बार-बार एक ही काम ना करें

आपको कब डॉक्टर से मिलना चाहिए?

अगर ऊपर बताए गए सभी लक्षण और बिगड़ें तो अपने डॉक्टर से मिलना ही सही है। नीचे दी गई चेतावनी का आपको ध्यान रखना है।

  • अगर दर्द से आपके दैनिक जीवन या नींद पर असर पड़े तो आपको डॉक्टर से मिलना चाहिए
  • अगर हाथ या हाथ के किसी भी हिस्से में सुन्नता हो तो अपने डॉक्टर से मिलें
  • अगर अंगूठे या उसके पास कमजोरी लगे तो अपने डॉक्टर से मिलें, शायद आपकी नसें ढंग से काम नहीं कर रही हों, और इससे हमेशा के लिए भी कोई बड़ा नुकसान हो सकता है।
  • अगर दर्द या बताए गए लक्षण बच्चे के पैदा होने के बाद भी जारी रहें तो अपने डॉक्टर से मिलें। डॉक्टर आपकी समस्या को दूर करने के लिए आपको स्टेरोइड का इंजेक्शन दे सकता है। सर्जरी भी एक विकल्प है।

अपने डॉक्टर से हथेली की पट्टी से होने वाले फायदे की जानकारी भी लें, क्या पता आपकी इससे कोई मदद हो जाए।