प्रसव पूर्व योगा क्लास में क्या होता है?

Prenatal yoga during pregnancy

क्या आप प्रेगनेंसी में खुदको रिलेक्स करना चाहती हैं? प्रसव पूर्व का योगा आपको इस समय काफी शांति दे सकता है, और आप इस सफर को काफी एंजॉय भी करेंगी। इस योगा से ना सिर्फ आप प्रसव के लिए तैयार होती हैं बल्कि इससे आपके बच्चे का विकास भी अच्छे से होता है।

प्रसव पूर्व योगा के निम्न फायदे हैं:

इससे आपको नींद अच्छी आती है

इससे तनाव और व्याकुलता कम होती है

इससे आपके पीठ का दर्द सही रहता है, और जी मिचलने की समस्या भी ठीक रहती है, सर दर्द और सांस की कमी भी नहीं होती

इससे आपकी क्षमता बढ़ती है, और आपकी मसल की सहने की क्षमता बढ़ती है, इससे आप बच्चे को जन्म देने के लिए तैयार होती हैं।

कुछ शोध से ये भी पता चलता है की योगा करने से आपके अंदर हाइपरटेंशन नहीं होती है, और इससे आपको प्रेगनेंसी से जुड़ी समस्या भी कम होने का खतरा रहता है।

कई अन्य क्लास की तरह इस योगा को भी करने के कई तरीके हैं, इससे आपको शारीरिक और मानसिक रूप से शांति मिलती है। कई डॉक्टर आपको प्रेगनेंसी में योगा के रूप में ही एक्सर्साइज़ करने की सलाह देंगे।

प्रसव पूर्व योगा क्लास में क्या होता है?

मुद्रा: बैठते, लेटते, और खड़े होते हुए आप अपने शरीर को काफी आराम से हिलाएँगे, इससे आपकी लचक, क्षमता और बैलेन्स बढ़ता है। इसमें कंबल, तकिया और बेल्ट का इस्तेमाल होता है। इससे आपको योगा करने में आराम मिलेगा।

रिलेक्स करना: इस क्लास के अंत में आप अपने शरीर में काफी बदलाव देख पाएँगी। आपको इसके बाद दिल में काफी आराम मिलेगा, और आपकी सांस भी अच्छी होंगी। अगर आप थोड़ा ज़्यादा ध्यान दें तो आपको अपने अंदर की गतिविधि का पता भी चलेगा। आप इस समय उन मंत्रों को महसूस करें जो आपको सुनाई दे रहे हों।

खिंचाव करना: आपको कहा जाएगा की आप अपने शरीर को थोड़ा ज़्यादा घुमाएँ, आपको हाथ पाँव हिलाने के लिए कहा जाएगा। इससे आपके अंदर एनर्जि का संचार सही से होता है।

आपको ध्यान रखना है की आपकी दिन की एक्सर्साइज़ 30 मिनट से ज़्यादा नहीं होनी चाहिए। योगा करते हुए आप अपने दिमाग की टेंशन बाहर ही छोड़ दें, और अपने आपको रिलेक्स करें। इस समय अपने शरीर की आवाज़ भी सुनें, और थकान पर रुक जाएँ, और रेस्ट लें।