प्रेगनेंसी में पाँव और पसली में होने वाले दर्द से कैसे बचें?

Pregnancy pains

प्रेगनेंसी में पसली में दर्द और पाँव में एंठन होना काफी आम है, खासकर तब जब आप अपनी तीसरी तिमाही की ओर आगे बढ़ रही हों, कभी-कभी ये पहले भी शुरू हो सकता है। जैसे ही आपका गर्भाशय आपके बच्चे के लिए फैलता है वैसे ही आपकी पसली पर असर पड़ता है, और प्रेगनेंसी आगे जाने पर आपको सांस लेने में दिक्कत भी हो सकती है। बच्चे का साइज़ और लंबाई भी दिक्कत बन सकती है, क्योंकि बच्चे के बड़े होने पर आपकी पूरी पसली पर काफी दबाव पड़ता है। बच्चा अगर आपके पेट में घूम रहा हो या लातें मार रहा हो तब भी पसली में दर्द हो सकता है।

प्रेगनेंसी में आपके पसली के दर्द को ऐसे आराम दिया जा सकता है:

1.इस समय आप अच्छे ढीले कपड़े पहनें। अगर कपड़े टाइट हैं तो इससे आपके शरीर पर और दबाव पड़ सकता है। ढीले कपड़े पहनने से आपको हिलने में आसानी होगी।

2.सही मुद्रा में सोना भी काफी अहम है। आपको उल्टी तरफ सोने के लिए कहा जाता है, इससे आपका दबाव कम होता है। इस समय आप तकियों से सहारा ले सकती हैं। आप दोनों पैर के बीच और पेट के नीचे तकिया रखकर आराम पा सकती हैं।

3.मसाज लेने और एक्सर्साइज़ करने से आपके शरीर से तनाव निकल सकता है और इससे पसली भी आराम पाती हैं।

आपके बढ़ते हुए वज़न से आपके पैर की मसल पर दबाव पड़ता है। बढ़ते हुए वज़न से आपकी तंत्रिका और खून कणिका पर दबाव पड़ता है, खासकर पाँव के एरिया में। बढ़ते हुए गर्भाशय की वजह से आपके पैर से दिल तक जाने वाले खून पर असर पड़ता है, इस वजह से आपके पाँव सूज जाते हैं, और फिर आपको पाँव में एंठन आती है। वज़न की वजह से भी आपको थकान लग सकती है। तीसरी तिमाही में ये कुछ ज़्यादा ही बढ़ता है खासकर रात के समय ये कुछ ज़्यादा ही बढ़ जाता हा। दूसरी तिमाही में ये शुरू होता है और बच्चे के पैदा होने तक ऐसा होता है।

इन उपायों से आपको पाँव में एंठन की समस्या में आराम मिलेगा:

1.आप पाँव में खिंचाव करने से अपने पाँव को एंठन से बचा सकती हैं।

2.आपको पाँव तिरछे करके काफी देर नहीं बैठना है। इस समय आपके पाँव ऊपर की ओर होने चाहिए।

3.दिन में काफी पानी लें और संतुलित आहार भी लें।

4.आपको दिन में एक्सर्साइज़ भी करनी है, या कम से कम 30 मिनट के लिए टहलना चाहिए।

5.अपनी एड़ी घुमाएँ, दिन में कई बार

याद रखें की बच्चे के पैदा होने के बाद आपको जो भी दर्द हो रहा है वो अपने आप कम होगा और फिर चला जाएगा।