प्रेगनेंसी में सही संतुलन नहीं होने की 5 वजह

Clumsiness during pregnancy

क्या ऐसा होना आम है?

हाँ, ऐसा होना काफी आम है। खासकर प्रेगनेंसी के कुछ आखरी महीनों में ऐसा होता ही है। एक शोध में पता चला की एक चौथाई महिलाएं अपनी प्रेगनेंसी के दौरान कम से कम एक बार गिरी।

क्यों होता है ऐसा?

इसके पीछे कई कारण हैं:

बढ़ा हुआ वज़न: आपके शरीर के बढ़े हुए वज़न की वजह से आपके शरीर का संतुलन खराब हो सकता है।

आपका गुरुत्व केंद्र बदल जाता है: जैसे भौतिक विज्ञान में आपको सिखाया जाता है वैसे ही आपका पेट बढ्ने की वजह से आपका गुरुत्व केंद्र भी बदल जाता है, जिससे आप गिर सकती हैं।

जोड़ों में ढीलापन आना: आपके शरीर में हो रहे हार्मोनल बदलाव की वजह से आपके शरीर के जोड़ों में ढीलापन आ जाता है।

पाँव और पंजों का सूजना: इसके कारण भी आप गिर सकती हैं।

पेट की मासपेशियों का कमजोर होना: आपकी प्रेगनेंसी की अंतिम अवस्था में आपके पेट की मासपेशियाँ अलग होना शुरू हो जाती हैं, जिससे आपके पेट के एरिया में कमजोरी आती है, और इससे आपकी गतिविधि पर असर पड़ता है।

इसके अलावा आपकी उँगलियों के जोड़ भी काफी ढीले हो जाते हैं, जिसकी वजह से आप चीजों को सही प्रकार से पकड़ नहीं पाती।

क्या किया जाए?

इस समय शारीरिक काम कम से कम ही होने चाहिए, इसलिए:

इस समय आपको ज़्यादा जल्दी नहीं करनी चाहिए, और आपको अपना पूरा समय लेना चाहिए।

हो सके तो घर के काम करने से बचें, खासकर वो काम जो आपको थका सकते हैं।

आपको इस समय वो जूते पहनने चाहिए जो आपको ज़्यादा से ज़्यादा और अच्छे से संतुलन दें, इससे आपके गिरने का खतरा भी कम रहेगा।

आपको अपने आस-पास की जगह का ज़्यादा से ज़्यादा खयाल रखना है, इस समय लिफ्ट या एस्किलेटर का इस्तेमाल ज़्यादा से ज़्यादा करें।

इस समय ज़्यादा वज़न ना उठाएँ, आप पहले ही काफी वज़न उठा रही हैं, और आपके पेट में एक बच्चा है जो आपका संतुलन थोड़े से ज़्यादा वज़न के साथ खराब कर सकता है।

क्या इस बारे में चिंता की जाए?

अगर आपको इस समय सर में दर्द, चक्कर, या सही से दिखाई नहीं दे तो आपको तुरंत अपने डॉक्टर को फोन करना चाहिए।

प्रेगनेंसी से जुड़ी और जानकारी के लिए हमारी एंगों हेल्थ एप यहाँ डाउनलोड करें।