प्रेगनेंसी में हमें मच्छर से कुछ ज़्यादा ही सावधान क्यों रहना चाहिए?

मच्छर प्रेगनेंट महिलाओं की तरफ ही कुछ ज़्यादा आकर्षित होते हैं, क्यों?

अगर आपको लग रहा है की प्रेगनेंसी में आपको मच्छर कुछ ज़्यादा ही काट रहे हैं तो ये आपकी कल्पना नहीं है, ये सच्चाई है। इस बात का पता विज्ञान में भी चल गया है की प्रेगनेंसी में मच्छर नॉर्मल दिनों के मुक़ाबले आपके शरीर की तरफ कुछ ज़्यादा ही आकर्षित होते हैं। इसका कारण है है आपका कुछ ज़्यादा ही कार्बन डाइऑक्साइड छोड़ना, प्रेगनेंसी में कोई भी महिला ज़्यादा हवा लेती है और इसका मतलब है की वो अपने आप ज़्यादा कार्बन डाइऑक्साइड छोड़ेगी-और इसी बढ़ी हुई कार्बन डाइऑक्साइड की वजह से मच्छर आपकी तरफ आकर्षित होते हैं।

दूसरा कारण प्रेगनेंट महिलाओं के शरीर का तापमान हो सकता है। आमतौर पर प्रेगनेंट महिलाओं का तापमान आम दिनों के मुक़ाबले ज़्यादा होता है।

क्या प्रेगनेंसी में मच्छर का काटना कुछ ज़्यादा ही खतरनाक है?

हाँ, कह सकते हैं। एक बड़े संस्थान की रिपोर्ट के अनुसार ज़ीका वाइरस से बच्चे के अंदर माइक्रोसिफली हो सकती है, ये एक जन्मजात विकार है, जो ज़ीका वाइरस की वजह से होता है। माइक्रोसिफली की वजह से बच्चे का सर छोटा होता है, जिसकी वजह से उनका विकास काफी देरी से होता है।

क्या इस समय स्प्रे या मच्छर भगाने की बत्ती का प्रयोग कर सकते हैं?

हाँ, ऐसा किया जा सकता है। सबसे अच्छा तरीका यही है की आप मच्छर से होने वाली बीमारी से बचने के लिए इन चीजों का इस्तेमाल करें। अगर आप उस जगह जाने का प्लैन कर रही हैं जहां मच्छर काफी बीमारी फैलाते हैं, तो आपको इसके बारे में अपने डॉक्टर से बात करनी चाहिए, और सही प्रकार से सावधानी बरतनी चाहिए। आप नीचे गए मच्छर के स्प्रे का इस्तेमाल कर सकती हैं, ये प्रेगनेंट महिलाओं के लिए सुरक्षित माने गए हैं।

पिकराइडिन: आप इसका इस्तेमाल कर सकती हैं, और इसे प्रेगनेंसी में सेफ माना गया है।

डीईईटी: मच्छर इससे काफी दूर रहेंगे, और इससे आपको कोई दिक्कत भी नहीं है।

आप इन स्प्रे को अपनी नंगी जगह लगा सकती हैं, और साथ ही आप इन्हें अपने कपड़ों पर भी छिड़क सकते हैं।

मच्छर से बचें कैसे?

अगर आप मच्छर वाले एरिया में हैं तो आप मच्छर के काटे जाने से नीचे दिए गए तरिके से बच सकते हैं:

जब मच्छर कुछ ज़्यादा ही हो तो उस समय आपको घर के अंदर रहना चाहिए, हो सके तो धूल-मिट्टी से दूर रहें। चिकनगुनिया, डेंगू और जीका वाले मच्छर आमतौर पर दिन में ही काटते हैं।

आपको वही मच्छर मारने की दवाई रखनी चाहिए जिसमें 10% डीईईटी या पिकारिडीन होता है, दोनों को ही प्रेगनेंसी में सेफ माना गया है, ये दूध पिलाने वाली महिलाओं के लिए भी सेफ माना गया है, हाँ बस आपका बच्चा 2 महीने से ऊपर का होना चाहिए। बोतल लेने से पहले उस पर लिखे दिशा-निर्देश पढ़ लें।

हो सके तो अपने शरीर को ज़्यादा से ज़्यादा ढकें, आपको पूरे बाज़ू और पाँव को ढकने वाले कपड़े पहनने चाहिए। कुछ मच्छर आपकी पीठ या पाँव पर भी काटेंगे इसलिए आपको इन जगह को ढककर ही रखना है।

आपको उस कमरे में ही सोना चाहिए जहां ठंडक हो, हो सके तो आप एसी में ही सोएँ, क्योंकि मच्छर ठंडक से दूर भागते हैं।

प्रेगनेंसी से जुड़ी और जानकारी के लिए हमारी एंगों हेल्थ एप यहाँ डाउनलोड करें।