प्रेगनेंसी में सफर करना सेफ है?

Travel during pregnancy

प्रेगनेंसी के समय कौन रिलेक्स नहीं करना चाहेगा? सब चाहते हैं की थोड़े समय के लिए अपने पति के साथ समय बिताया जाए। हालांकि कई कपल घर में एंजॉय करने के बारे में सोचते हैं, कुछ लोग अनुभव को यादगार बनाने के लिए सफर करने पर विचार बनाते हैं। इसलिए अगर आप भी घूमने पर विचार बना रहे हैं तो आपके लिए कुछ सलाह:

कहा जाता है की दूसरी तिमाही घूमने के लिए बेस्ट होती है। ऐसा इसलिए होता है की इस समय तक आपको अपनी प्रेगनेंसी की आदत पड़ जाती है और जी मिचलने व उल्टी की समस्या भी लगभग गायब हो जाती है।

रोड़ पर आराम से

अगर आप रोड़ के ज़रिए कहीं जाना चाहती हैं तो आपको हमेशा अपनी सीट बेल्ट पहननी चाहिए, खासकर ड्राइविंग के समय तो हमेशा ही। कुछ विकट स्थिति आने पर आपको बेल्ट लगाने से काफी सुरक्षा मिलेगी। आपका और आपके डेशबोर्ड के बीच में काफी जगह होनी चाहिए।

सभी टीके ले लें

कहीं भी जाने से पहले आपको सभी प्रकार से टीके लेने चाहिए।

कहीं भी जाएँ पर वहाँ से मेडिकल मदद ज़्यादा दूर नहीं होनी चाहिए

आप जहां भी जा रही हों लेकिन ये भी देख लें की उस जगह पर सभी प्रकार की मदद हो। आपको वहाँ के पास के हॉस्पिटल का नंबर भी अपने पास तैयार रखना चाहिए।

ज़्यादा दूर ना जाएँ

अगर आप ड्राइव करने के बारे में सोच रही हों तो इस बात का ध्यान रखें की आप ऐसा स्थान चुनें जो ज़्यादा दूर ना हो। क्योंकि लगातार 10 घंटे तक कार में बैठना आपके और आपके बच्चे दोनों के लिए सही नहीं है।

प्रतिबंध के बारे में जान लें: आजकल हम ज़ीका वाइरस के बारे में काफी सुन रहे हैं। आपको पता होना चाहिए की किन एरिया में वाइरस सबसे ज़्यादा है। आपको काफी सावधानी भी बरतनी चाहिए।

शरीर का ध्यान रखें

इस बात से फर्क नहीं पड़ता की आप कहाँ हैं, पर आपको हमेशा छोटे से ब्रेक लेने पड़ेंगे, इससे आपके पाँव में सूजन आ सकती है। पाँव तिरछे करके ना बैठें इससे खून का थक्का बन सकता है। अपने आप को हमेशा हिलाती-ढुलाती रहें।

आपको ऊपर दिए गई सभी बात दिमाग में रखनी है, और आपका सफर सफल होगा। आपकी यात्रा मंगलमय हो!