नवजात बच्चे कुछ ऐसी हरकतें करते हैं जो आम लोगों के लिए काफी नई और अजीब होती हैं। आइए जानते हैं बच्चों की इन्ही आदतों को जिनके बारे में आपको कम ही पता होगा

एक नवजात का अपने शरीर के ऊपर काफी कम कंट्रोल होता है। कई बार आपने बच्चे को हिलते-डुलते देखा होगा, और कई लोग चिंता में पड़ जाते हैं की बच्चा इतना जल्दी कैसे हिल रहा है, और इसका क्या मतलब है? चिंता मत कीजिए आपका बच्चा बिल्कुल सही है। ये सब लक्षण बच्चे के धीरे-धीरे बड़े होते ही अपने आप चले जाते हैं। इस दौरान आप नीचे दिए गए कुछ बेहतरीन चेक-अप द्वारा इन चीजों का पता लगा सकते हैं।

नंबर 1: चलने की सजगता

कैसे चैक करें? अपने बच्चे को उसकी दोनों बगलों से पकड़ें, और बच्चे के पैर हवा में लटके हुए होने चाहिए, फिर बच्चे को नीचे करें, बच्चा अगर अपने पाँव हिला रहा है तो समझ जाइए की वो चलने की कोशिश कर रहा है।

 ऐसा कितनी देर तक होगा?: दो महीनों तक, शायद यह प्रकृति का तरीका है बच्चे को बताने का की वो अभी तैयार नहीं है।

नंबर 2: रूटिंग रिफ़्लेक्स

baby reflexes

कैसे चैक करें?: अपने बच्चे के गालों को अपनी उंगली या स्तन से तब तक सहलाएँ जब तक वो इसकी तरफ आकर्षित नहीं होता है, और जब वो उंगली या स्तन को चूसना शुरू कर दे तो समझ जाइए की काम पूरा हुआ। यह बचे रहने की स्वाभाविक प्रवत्ति है, जो माँ को अपने बच्चे को दूध पिलाना सिखाने में मदद करती है।

यह कितना लंबा चलेगी: चार महीनों के लिए ।

नंबर 3: स्टार्टले रिफ़्लेक्स(चौंकने की सजगता)

baby reflexes

कैसे जानें?: अपने बच्चे को बगल से पकड़कर कुछ सेकंड के लिए बैठाएँ, आपकी उँगलियाँ बच्चे की गर्दन को सपोर्ट करनी चाहिए, और फिर आराम से बच्चे की कमर को नीचे करें। आपका बच्चा अपने हाथ-पाँव फैला देगा, जैसे आपको गोद में लेने के लिए कह रहा हो, बच्चा इस समय काफी तेज़ और अजीब सी आवाज़ें भी निकालेगा, इससे उसका हिलना और तेज़ हो सकता है, और खासतौर पर चौंकने पर बच्चे रो भी सकते है।

यह कितनी देर चलेगा?: दो महीने तक

नंबर 4: ग्रास्प रिफ़्लेक्स(मुट्ठी की सजगता)

baby reflexes

कैसे चैक करें?: अपनी उंगली से बच्चे की हथेली को सहलाएँ। बच्चा आपकी उंगली को इतनी तेज़ी से पकड़ेगा की आपका शायद यह छुड़ानी पड़े। यह बच्चे का पकड़ने का तरीका होता है, और वो इससे ज़्यादा से ज़्यादा आपके शरीर को टच करना चाहने की इक्च्छा ज़ाहिर करता है। अगर आप बच्चे के पंजों के साथ भी ऐसा ही करेंगे तो बच्चा ऐसे ही अपने पाँव उठा लेगा।

ऐसा कब तक चलेगा?: यह धीरे-धीरे तीसरे महीने की शुरुआत में खत्म होना शुरू हो जाएगा।

नंबर 5: टॉनिक नैक रिफ़्लेक्स

baby reflexes

कैसे चैक करें?: जब बच्चा पीठ के बल लेटा हो तो बच्चे के सर को आराम से सीधी साइड कर दें। बच्चा ऐसा करने पर अपने सीधे हाथ को अपने सर के सामने और दूसरे हाथ को सर के ऊपर रख देगा। दूसरी तरफ सर करने पर भी बच्चा ऐसा ही करेगा। यहाँ तक की डॉक्टर को भी नहीं पता की यह रिफ़्लेक्स किस लिए होता है, लेकिन इससे बच्चा अपने सामने आने वाले हाथ पर फोकस कर पाता है।

यह कितना देर तक रहेगा?: चार से पाँच महीनों के बीच

नंबर 6: राइटिंग रिफ़्लेक्स

baby reflexes

कैसे चैक करें? अपने बच्चे के मुंह के ऊपर आराम से चद्दर रखें। बच्चा अपने हाथों को उठाना और सर हिलाना तब तक जारी रखेगा जब तक वो चद्दर को अपने मुंह से हटा ना ले, यह बच्चे का अपने आप को बचाने की स्वाभाविक प्रवत्ति है। बच्चे के बड़े होने के साथ-साथ यह गुण और भी विकसित होगा। उदाहरण के लिए जब बच्चा खड़ा होने सीख रहा होगा तो वो अपने हाथों को गिरते हुए खुदको बचाने की कोशिश करेगा।

यह कब जाता है? पहले साल के अंत तक, जब मासपेशियाँ बढ़ती हैं।

नंबर 7:टंग-थ्रस्ट रिफ़्लेक्स

baby reflexes

कैसे पता लगाएँ?: चमच्च से अपने बच्चे की जीभ को छूएँ, बच्चा इसे बाहर करने की कोशिश करेगा। यह बच्चे की दम घुटने से बचने की प्रकर्तिक प्रवत्ति है।

यह कितने समय तक चलेगा?: चार से छह महीने के बीच तक। इसी वजह से बच्चे को शुरुआती महीनों में खाना नहीं खिलाया जाता है(उन केस को छोड़कर जहां GERD मतलब गैस्ट्रोसोफिजिल रिफ्लक्स बीमारी होती है, यहाँ डॉक्टर आपको अपने बच्चे को चावल अनाज से बने घोल को बोतल से खिलाने की सलाह देते हैं)

नंबर 8: विदड्रोवल रिफ़्लेक्स

baby reflexes

कैसे चैक करें: जब आपका बच्चा अपनी उछलने वाली सीट पर खुश होकर बैठा हो, तब तुरंत अपना चेहरा उसके पास लाएँ। बच्चा तुरंत अपने सर को दूर कर लेगा, यह भी आत्म-सुरक्षा का एक तरीका है। जब भी कोई चीज़ बच्चे की तरफ आएगी, बच्चा ऐसे ही रिएक्ट करेगा।

यह कितना लंबा चलेगा?: यह ज़िंदगीभर चलता है।