गर्भावस्था के दौरान क्या मसूड़ों से खून निकल रहा है? क्या यह गंभीर हो सकता है??

Bleeding gums during pregnancy

क्या प्रेगनेंसी के दौरान मसूड़ों से खून निकलना आम बात है?

आधी गर्भवती महिलाओं के मसूड़े सूजे हुए, लाल, और काफी नाज़ुक होते हैं और ब्रश करते हुए इनसे खून भी निकलता है। इसका कारण मामूली रूप की मसूड़ों की बीमारी होती है जिसे प्रेगनेंसी जिंजीवाइटिस कहा जाता है। हार्मोनल बदलाव की वजह से आपके मसूड़े लाल हो जाते हैं जिससे दातों में जमा मैल बैक्टीरिया के प्रति ज़्यादा संवेदनशील हो जाता है।

मसूड़ों में मामूली सी एक गांठ बन जाती है, जिससे ब्रश करने पर खून बहता है। इस दुर्लभ गांठ को प्रेगनेंसी ट्यूमर या पीयोजेनिक ग्रेन्युलोमा कहते हैं। चिंता मत कीजिए इसका नाम ही काफी डरावना है, लेकिन इससे कोई नुकसान नहीं होता और दर्द भी नहीं होगा। प्रेगनेंसी ट्यूमर आपकी गर्भावस्था के दौरान कहीं भी बन सकता है, लेकिन आमतौर पर यह मुंह के अंदर ही दिखाई देते हैं।

प्रेगनेंसी ट्यूमर आकार में इंच के तीन-चौथाई तक बड़ा हो सकता है और वहाँ हो सकता है जहां आपको जिंजीवाइटिस है। आमतौर पर बच्चा पैदा करने के बाद यह चला जाता है, पर अगर यह नहीं जाए तो आपको यह निकलवाना पड़ेगा। अगर इससे आपको परेशानी हो, या खाते समय दिक्कत हो या इससे ज़्यादा ही खून निकलना शुरू हो जाए, तो आप इसे प्रेगनेंसी के दौरान ही निकलवा सकती हैं।

क्या प्रेगनेंसी जिंजीवाइटिस से मेरी प्रेगनेंसी पर कोई फर्क पड़ेगा?

यह मसूड़ों की एक छोटी सी बीमारी है इसलिए इस बात की संभावना कम ही है की आपको इससे कोई दिक्कत हो। खासकर तब जब आप अपने दांतों की सफाई अच्छे से करती हों। आपने शायद सुना होगा की दांतों की बीमारी से समय से पहले हुई प्रसूति हो सकता है, लेकिन ऐसा होने का रिस्क केवल उन महिलाओं को है जिन्हे गंभीर मसूड़ों की समस्या हो।

कई अध्यन के अनुसार गंभीर मसूड़ों की बीमारी, समय से पूर्व प्रसूति और बच्चे के कम वज़न के बीच सीधा संबंध होता है। और कुछ शोध इसका प्रीक्लेमसिया से भी संबंध दिखाते हैं। लेकिन इसके अलवा कुछ और स्टडी हैं जो दिखाती हैं की इन गंभीर समस्या और मसूड़ों की समस्या में कोई संबंध नहीं होता।

प्रेगनेंसी के दौरान अपने दांत और मसूड़ों का कैसे खयाल रखें?

  • दिन में दो बार अच्छे से लेकिन आराम से ब्रश करें, मुलायम ब्रश का इस्तेमाल फ्लोराइड वाले टुथपेस्ट के साथ करें।
  • हर दिन फ्लोराइड और एल्कोहल रहित माउथ वॉश का इस्तेमाल करें।
  • हर दिन दांतों के बीच की गंदगी धागे से निकालें
  • समय-समय पर दांत की जांच करवाते रहें। आपका डेन्टिस्ट उस गंदगी और मैल को निकाल सकता है जिसे आप ब्रश के दौरान नहीं निकाल सकते। अगर आप पिछले कुछ दिनों में अपने डॉक्टर से नहीं मिले तो जल्द ही मिलें, और उनकी सफाई करवाएँ। आप अपने डॉक्टर को इस बात की जानकारी भी दें की आप गर्भवती हैं। दांतों की समस्या का इलाज करवाने से बचिए नहीं।

मैं कब डेन्टिस्ट के पास जाऊँ?

रेगुलर चेकअप तो करवाने ही हैं, लेकिन अगर आपको नीचे दी गई कोई समस्या का सामना करना पड़े तो डेन्टिस्ट से मिलें:

  • प्रेगनेंसी के दौरान अगर आपको मसूड़ों से खून निकल रहा हो
  • दांत में दर्द हो
  • दांतों की और बीमारी के संकेत, जैसे सूजन, कोमल मसूड़े, सांस में बदबू, मसूड़े छोटे हो रहे हों, या आपका दाँत निकलने वाला हो
  • अगर आपके मुंह में व्रद्धि हो रही हो, चाहे दर्द हो या नहीं, या फिर उनसे कोई और समस्या हो या नहीं