योनि संक्रमण से क्या आपके बच्चे पर असर पड़ता है?

Thrush during pregnancy

प्रेगनेंसी में आपकी योनी से एक द्रव निकलता है, और ऐसा होना काफी आम है। ये दिखने में थोड़ा मोटा और दूध की तरह होता है। इससे कभी कभी आपको खुजली या लालपन दिखता है। ऐसा योनि के इन्फ़ैकशन की वजह से होता है, ये प्रेगनेंसी में होना काफी आम है। प्रेगनेंसी में हार्मोन्स में बदलाव की वजह से आपको योनि का संक्रमण होने का अधिक खतरा होता है।

हालांकि नीचे दी गई परिस्थिति में आपको ये होने का अधिक खतरा रहता है:

अगर आपको डायब्टीस है या गर्भावस्था की डायब्टीस है

अगर आप प्रेगनेंट हैं, तो आपकी योनि में हार्मोनल बदलाव की वजह से काफी ग्लूकोज जमा हो जाता है जिससे आपको ये इन्फ़ैकशन हो सकता है

अगर आपका प्रारतिरोधक तंत्र काफी कमजोर है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि आपकी पहले कई सर्जरी शायद हुई हों

जब आप काफी समय से एंटीबायोटिक्स ले रही हों।

क्या इससे बच्चे पर असर होगा?

इससे बच्चे पर असर नहीं होगा, और आपका बच्चा आपकी कोख में सुरक्षित है। यदि जन्म के समय बच्चा इस द्रव के संपर्क में आता भी है तो डॉक्टर बच्चे को एक उपचार देकर उसे इससे सुरक्षित रखेंगे।

डॉक्टर से कब मिलना है?

अगर आपको प्रेगनेंसी में ये दिक्कत है तो अपने डॉक्टर से बात करें। इसके बाद आपके डॉक्टर आपकी योनी की जांच करेंगे ये देखने के लिए की स्थिति कितनी गंभीर है। अगर उन्हें कुछ भी शक हुआ तो वो इसका सैंपल टेस्ट के लिए लैब भेज सकते हैं।

इससे बचें कैसे?

आपको फंगस से दूर रखने वाली क्रीम लगाने की सलाह दी जाएगी, इस क्रीम को आब प्रेगनेंसी में कभी भी लगा सकती हैं। अगर आपकी पहली तिमाही चल रही है तो शायद ही आपके डॉक्टर आपको कोई भी चीज़ लेने की सलाह दें। हालांकि आपको इससे बचने के लिए पूरा एक सात दिनों का कोर्स करना होगा।

आपके लिए इससे बचना थोड़ा मुश्किल हो सकता है, इसलिए आपको पूरा 7 दिनों का कोर्स करना चाहिए, अगर समस्या फिर भी बनी हुई है तो आपको अपने डॉक्टर से मिलना चाहिए।

इससे बचें कैसे?

अपनी योनी पर कोई साबुन नहीं लगाएँ। इस जगह आप पानी या केमिकल रहित साबुन से धोएँ।

अपने अंडरवीअर को वॉशिंग पाउडर में ना धोएँ। इसको दो बार धोएँ ये देखने के लिए ये सही से धुल गया हो।

इस समय सूती अंडरवीअर पहनें, सिंथेटिक से दूर रहें।

इस समय टाइट कपड़े जैसे जींस, लेगिन्स न पहनें इससे आपको काफी दिक्कत होगी।

इस समय दही सही मात्रा में लें, और प्रोबायोटिक्स का इस्तेमाल करें

आप दिन में कई बार मॉइश्चराइज़र का इस्तेमाल करें, ताकि आपकी योनी में सूखापन ज़्यादा न रहे।

प्रेगनेंसी से जुड़ी और जानकारी के लिए हमारी एंगों हेल्थ एप यहाँ डाउनलोड करें।