प्रेगनेंसी के दौरान खसरा-बचाव और उपचार

Rubella (German Measles)

खसरा एक ऐसी बीमारी है जो इससे ग्रसित इंसान के छींक या खाँसने से किसी को भी हो सकती है। खसरा में थोड़े फ्लू वाले लक्षण होते हैं। खसरा से पीड़ित केवल आधे लोग ही कोई लक्षण देख पाते हैं। कुछ लोगों को तो पता ही नहीं लगता की उन्हें खसरा है।

खसरा के लक्षण

सर में दर्द

हल्का सा बुखार

आँख का लाल होना

नसों में झन्नाहट

जोड़ों में दर्द

नाक का बहना

खसरा से होने वाली दिक्कतें

खसरा से प्रेगनेंसी में दिक्कत हो सकती है, खासकर पहली और दूसरी तिमाही में इसके ज़्यादा खतरे हैं।

पहली तिमाही में खसरा होने के रिस्क-

पैदाइशी खसरा: खसरा के इन्फ़ैकशन से सबसे बड़ा खतरा तब होता है जब माँ को शुरू से ये होता है। पहली तिमाही में जिन महिलाओं को ये बीमारी होती है वो अपने बच्चे को भी ये इन्फ़ैकशन जन्म से दे सकती हैं।

इससे जुड़े कुछ विकार:

बच्चे को सुनने की दिक्कत हो सकती है

बच्चे को देखने की परेशानी हो सकती है

बच्चे को हड्डी में दिक्कत हो सकती है

बच्चे को दिल में दिक्कत हो सकती है

बच्चे की बुद्धि के विकास पर असर पड़ सकता है

बच्चे के लीवर को दिक्कत हो सकती है

बच्चे का वज़न जन्म के समय कम हो सकता है

बच्चे के विकास में दिक्कत हो सकती है

बच्चे को जन्म के समय निशान पड़ सकते हैं

उपचार

सबसे अच्छा उपचार है की आप इस बात की पुष्टि करें की आपके अंदर इसे विरुद्ध प्रतिरोधकता है। खून की जांच से पता चलता है की आप खसरा से सुरक्षित हैं या नहीं।

अगर आप प्रेगनेंट होने के बारे में कोई विचार बना रही हैं तो अपने डॉक्टर से खून की जांच के बारे में पूछें। अगर आपको ये होने का खतरा है तो आप अपने बच्चे को इससे बचाने के लिए नीचे दिए गए उपाय कर सकती हैं;

आपको प्रेगनेंट होने से पहले इसका टीका लगवाना चाहिए।

अगर आप प्रेगनेंट हैं तो अपना टेस्ट करवा सकती हैं, पता करने के लिए आपको ये होने का खतरा है या नहीं।

बच्चे को पैदा करने के बाद इसका टीका लगवाएँ। अगर आपको ये इन्फ़ैकशन नहीं है तो आपके बच्चे को भी ये दिक्कत नहीं होगी।

आप इससे बचने के कुछ निम्न तरीके भी कर सकती हैं:

क्योंकि रूबेला/खसरा काफी तेज़ी से फैलता है, इसलिए आपको उन सभी लोगों से दूर रहना चाहिए जिन्हें ये इन्फ़ैकशन है।

अगर आप किसी ग्रसित आदमी के संपर्क में आई हैं तो अपने डॉक्टर को तुरंत बताएं। अगर आपको प्रेगनेंसी में खसरा होता है तो आपके डॉक्टर बच्चे के पैदा होने के बाद उसकी जांच करेंगे देखने के लिए बच्चे में ये इन्फ़ैकशन है या नहीं।

प्रेगनेंसी से जुड़ी और जानकारी के लिए हमारी एंगों हेल्थ एप यहाँ डाउनलोड करें।