प्रेगनेंसी में स्पा जाने से पहले आपको इन चीजों से बचना चाहिए

Spa during pregnancy

क्या आपकी दूसरी तिमाही शुरू हो गई है? समय आ गया है की आप अपने आपको थोड़ा प्यार दें। कई लोग खुदको मसाज से लेकर हाथ का मेनीक्योर भी गिफ्ट करते हैं। इन कुछ तरीको से आप प्रेगनेंसी में स्पा को काफी एंजॉय कर पाएँगी।

प्रेगनेंसी में स्पा जाने का सही समय क्या है?

प्रेगनेंसी में स्पा एंजॉय करने का सबसे सही समय है दूसरी तिमाही। इस समय तक लगभग सभी लोगों की जी मिचलने की समस्या चली जाती है और आपमें पहले से ज़्यादा ऊर्जा भी होगी।

कुछ स्पा आपको सलाह देंगे की आप 12 हफ्ते होने से पहले कोई भी एक्सर्साइज़ क्लास या उपचार जॉइन ना करें। आप ये भी देखेंगी की कुछ स्पा 32 हफ्तों से ऊपर गर्भवती महिलाओं को मसाज नहीं देते हैं।

एक ऐसा स्पा ढूँढे जहां स्टाफ थोड़ा अनुभवी हो, और जिन्हें पता हो की गर्भवती महिलाओं का खयाल कैसे रखना है। बुक करते हुए आप उन्हें बता दें की आप कितने दिनों की प्रेगनेंट हैं। ऐसा बताने से स्पा वाले लोग आपके लिए एक पर्फेक्ट स्पा का इंतज़ाम करके रखेंगे।

प्रेगनेंसी में मालिश लेना कितना सुरक्षित है?

मालिश करने से आप अपने पीठ के दर्द, कंधे के दर्द, और हिप के दर्द से निजात पा सकते हैं। इससे आपका मूड भी अच्छा हो सकता है, और इससे दर्द निवारक एंडोर्फिंस भी छूटते हैं, और फिर आपको काफी हल्का महसूस होता है।

आपको वही स्पा चुनना चाहिए जहां केवल प्रेगनेंट महिलाओं को ही मसाज दी जाती है। स्पा में मालिश देने वाले इंसान के पास प्रेगनेंसी मसाज और इससे जुड़े क्षेत्र में अनुभव होना चाहिए, इससे उन्हें पता होगा की आपका कैसे खयाल रखना है। एक अच्छा मसाज करने वाला आपको मसाज से जुड़ी अच्छी सलाह भी दे सकता है, ये मसाज की तकनीक आपके जन्म के समय आपके काम आ सकती है।

आपका मसाज वाला आपको कई पोसिशन में हिलने में मदद करेगा, जैसे बैठना, लेटना और झुकना। कुछ भी शुरू करवाने से पहले आपको अपने मसाज वाले को बता देना चाहिए की आपको कहाँ ज़्यादा दर्द हो रहा है, और अगर दर्द ज़्यादा हो तो उन्हें रुकने के लिए कहें। स्पा आपको कुछ एक्सट्रा तकिया देगा, इससे आपको काफी आराम मिलेगा।

कुछ स्पा में प्रेगनेंट औरतों के पेट के लिए स्पेशल काउच होता है। हालांकि कुछ महिलाओं को ये इतना सहज नहीं लगता है। इसको पहले आजमाएँ, और अच्छा ना लगने आप अपने मालिश वाले को सब बता दें।

प्रेगनेंसी में आपको कुछ ज़्यादा ही सुँघाई भी देता है। अपने मसाज वाले को बता दें अगर आपको कोई गंध ज़्यादा ही तंग कर रही है। याद रखें, ये समय केवल आपका है। अगर आप तेल के साथ मसाज करवाना चाहती हैं तो कुछ ज़्यादा ही सावधान रहें। कुछ तेल प्रेगनेंसी में सही नहीं माने जाते हैं। कुछ भी शुरू करने से पहले अपने मसाज वाले को बताएं की आप कितने हफ्तों की प्रेगनेंट हैं।

प्रेगनेंसी में फ़ेश्यल कितना सुरक्षित है?

फ़ेश्यल से आपकी त्वचा काफी सुंदर और स्वस्थ रह सकती है। बस इस बात का ध्यान रखें इस समय आपकी त्वचा काफी संवेदनशील है, और प्रेगनेंसी के पहले ये उतली संवेदनशील नहीं हुआ करती है। प्रेगनेंसी से पहले आप जो प्रॉडक्ट इस्तेमाल किया करती थी वो अब आपके लिए खतरनाक भी हो सकते हैं।

अपने ब्यूटी थेरपिस्ट से कहें की वो आपको इस समय सुरक्षित प्रॉडक्ट से सेवा दे। अगर आपको फिर भी भरोसा ना हो तो कुछ भी शुरू करने से पहले थोड़ी सी जगह पर टेस्ट करलें।

इस बात की पुष्टि कर लें की पार्लर वाले इस समय कोई भी ऐसा प्रॉडक्ट इस्तेमाल नहीं कर रहे हों जिसमें रेटिनोइड हो। ये विटामिन ए का एक प्रकार है जिससे कोशिका का विभाजन होता है। इसका स्किन केयर में इसलिए इस्तेमाल होता है क्योंकि त्वचा नई होती है। हालांकि इस बात के चान्स भी हैं की ज़्यादा इस्तेमाल करने पर इससे आपके बच्चे को नुकसान भी हो सकता है।

प्रेगनेंसी में मेनीक्योर और पेडीक्योर कितने सुरक्षित हैं?

किसी को भी साफ-सुथरे हाथ और पाँव अच्छे लगते हैं। कभी कभी नेल पोलिश या नेल पोलिश हटाने वाला रसायन इस्तेमाल करना ठीक है, और इसीलिए मेनीक्योर से आपको कोई ज़्यादा नुकसान नहीं होना चाहिए।

हालांकि अगर आपने नेल पोलिश का ज़्यादा इस्तेमाल किया तो इससे आपको नुकसान हो सकता है, क्योंकि इसमें कुछ नुकसान देने वाले रसायन होते हैं। नेल पोलिश में फॉर्मलडीहाइड और टोल्युंस होता है, दोनों से आपकी आँख में दिक्कत हो सकती है, इससे गला और फेफड़े भी प्रभावित हो सकते हैं। टोल्युंस अगर बच्चे के संपर्क में काफी बार आया तो इससे उसे नुकसान भी हो सकता है।

अपने नेल पेंट लगाने वाले पार्लर कर्मचारी से कहें की वो ऐसी नेल पोलिश लगाएँ जिनमें ये दोनों रसायन ना हों। ज़्यादा सुरक्षा के लिए आपको कमरा हमेशा खुला रखना चाहिए।

प्रेगनेंसी में स्पा के दौरान ये चीज़ें नहीं करनी चाहिए?

प्रेगनेंसी में गरम उपचार से दूर रहें, क्योंकि गर्मी आपके और आपके बच्चे दोनों के लिए सही नहीं है। नीचे दी गई चीज़ें भी आपको लेने से बचना है:

भाप वाला कमरा

सौना

हॉट स्प्रिंग्स

टेनिंग बेड

हॉट टब और स्पा बाथ

वैसे आपको गरम पानी से दूर ही रहना चाहिए, पर गुनगुने पानी में नहाने से आपको हमेशा अच्छा ही लगेगा। इससे आपका पूरा शरीर रिलेक्स हो जाएगा। इस समय पानी का तापमान 35 डिग्री से ज़्यादा नहीं होना चाहिए, 32 डिग्री सेल्सियस यदि आप पानी में एक्सर्साइज़ कर रही हों।