क्या प्रेगनेंसी के लक्षण नहीं दिखने से मुझे गर्भपात का खतरा है?

Pregnancy symptoms & Miscarriage

प्रेगनेंसी के लक्षण बिलकुल जा सकते हैं या कभी दिख सकते हैं और कभी गायब हो सकते हैं

आपके प्रेगनेंसी से जुड़े लक्षण जैसे स्तन में दर्द, जी मिचलना और खाने की अनियमितता के चले जाने से आपको लग सकता है की कहीं आपका गर्भपात तो नहीं होने वाला है, या हो गया है।

जहां एक दम से सभी प्रेगनेंसी के लक्षण खत्म होने से हो सकता है की आपको गर्भपात हो गया हो, लेकिन ऐसा ही हर बार होता है ये भी सच नहीं है। इसलिए अपने डॉक्टर से हमेशा टच में रहना काफी अहम है, इसलिए आपको अपने डॉक्टर से इस बारे में हमेशा बात करनी चाहिए।

इसके साथ हम आपको बताना चाहेंगे की प्रेगनेंसी के कुछ लक्षण अपने आप चले जाते हैं या आते-जाते रहते हैं, इसलिए आपको चिंता हो सकती है। इसलिए आपके डॉक्टर इस बात की जांच करते हैं की आपको गर्भपात के और कोई लक्षण तो नहीं हैं, जैसे योनी से खून निकलना या एंठन।

यदि आपको पता है की प्रेगनेंसी में क्या होता है और क्या नहीं नहीं चाहिए तो आपका सफर आसान हो जाता है, और आपको ये भी पता होना चाहिए की आपको कब डॉक्टर को फोन करना है।

प्रेगनेंसी के लक्षण और संकेत क्या हैं?

ये लक्षण और संकेत अलग-अलग लोगों पर निर्भर करते हैं। यदि आपके मासिक धर्म छूट गए हैं तो इसका मतलब प्रेगनेंसी है ये सबको पता है, इसके अलावा भी कुछ लक्षण हैं, जो प्रेगनेंसी की ओर संकेत करते हैं।

सूजन या दर्द वाले स्तन

जी मिचलना या उल्टी करना

कुछ अलग ही खाने का मन करना

ज़्यादा पेशाब लगना

एक दम से थकावट महसूस करना

कब्ज़

एंठन

एक दम से आपका मूड बदलना

निपल के चारो ओर का एरिया गाढ़ा होना

वैसे जी मिचलने की समस्या तुरंत प्रेगनेंसी की शुरुआत से शुरू हो जाती है और ये पांचवे महीने तक रह सकती है। इसमें जी मिचलना और उल्टी करना शामिल है, ये ना सोचें की ये आपको बस सुबह होगी, ये आपको कभी भी हो सकती है।

कुछ महिलाओं को लगता है की उनकी जी मिचलने की समस्या खत्म होने के बाद उनकी प्रेगनेंसी भी खत्म हो जाती है, लेकिन आपको ये बात दिमाग में रखनी है की जी मिचलने की समस्या प्रेगनेंसी के अर्ध समय में अपने आप चली जाती है, तो इसका ये मतलब नहीं है की आपको गर्भपात हो गया है।

वैसे सबसे पहले महिलाएं प्रेगनेंसी के एक लक्षण को देखती हैं और वो है स्तन में दर्द होना, लेकिन हर किसी को ये दर्द काफी अलग अलग स्तर का हो सकता है। इसलिए अगर आपको ये दर्द नहीं हो रहा है या कम हो रहा है तो इसका ये मतलब नहीं है की आपको गर्भपात हो गया है।

गर्भपात के लक्षण क्या हैं?

ज़्यादातर गर्भपात पहली तिमाही में होते हैं, इसका सबसे बड़ा कारण होता है आपके भ्रूण में क्रोमोसोमल अनियमतता होना। गर्भपात के दो बड़े लक्षण हो सकते हैं।

योनी से खून निकलना

खून निकलना गर्भपात का सबसे बड़ा लक्षण है। हालांकि खून कैसे और कितनी देर में निकल रहा है इसपर भी गर्भपात निर्भर करता है, कुछ महिलाओं को लगातार खून निकलता है वहीं कुछ महिलाओं के खून निकलने की दर काफी अनियमित होती है। वहीं कुछ महिलाओं को काफी ज़्यादा खून निकल सकता है वहीं कुछ महिलाओं को खून कम ही निकलता है।

वैसे ये स्थिति काफी भ्रमक है, क्योंकि कभी-कभी खून निकलना कोई बड़ी बात नहीं है। कुछ महिलाओं की पूरी प्रेगनेंसी में खून निकलता है और वो एक स्वस्थ बच्चे को जन्म देती हैं।

अगर आपको प्रेगनेंसी में खून निकल रहा है तो आपको अपने डॉक्टर को तुरंत इसके बारे में बताना चाहिए, ये संकेत बिलकुल भी नकारे नहीं जाने चाहिए।

एंठन

जिन महिलाओं को गर्भापात हुआ वो बताती हैं की उन्हें पेट या श्रोणि में एंठन होती है, या उन्हें पीठ में थोड़ा-थोड़ा दर्द होता है। ये दर्द उसी समय होता है जब खून निकलता है। आपको हम बताना चाहेंगे की प्रेगनेंसी में अगर पीरियड से ज़्यादा वाला दर्द हो रहा है तो इसका मतलब है की आपको गर्भपात हो सकता है।

गर्भपात के अन्य लक्षण ये हो सकते हैं:

भ्रूण कोशिका और ऊतक से बना होता है। अगर आपकी योनी से खून के थक्के निकल रहे हैं तो कुछ गड़बड़ हो सकती है।

लाल और सफ़ेद रंग का द्रव निकलना

काफी गहन मरोड़े

एक दम से प्रेगनेंसी के सभी लक्षण चले जाना

मैं डॉक्टर से कब बात करूँ?

जहां इस बात में सच्चाई है की प्रेगनेंसी लक्षण एक दम से चले जाने से हो सकता है की आपको गर्भपात हो गया हो, वहीं ये भी सच है की ये लक्षण जाके फिर आ सकते हैं और ये एक नॉर्मल प्रेगनेंसी हो सकती है।

अगर आपके लक्षण पूरी तरह से चले जाएँ, और वो भी पहली तिमाही में किसी भी समय तो अपने डॉक्टर से इस बारे में बात करें, लेकिन ज़रूरी नहीं की आपको गर्भपात ही हो गया हो, इसलिए हमेशा अपने डॉक्टर से बात करती रहें।

हर महिलाएं अपनी प्रेगनेंसी में अलग तरीके से प्रतिक्रिया करती हैं। किसी को वो सभी लक्षण होंगे जो होने चाहिए तो किसी को कम लक्षण दिखते हैं, और किसी-किसी को लक्षण दिखते ही नहीं या कभी-कभी दिखते हैं। आप शुरू में इस बारे में ज़्यादा टेंशन ना लें।

हालांकि अगर आपको कोई दर्द या प्रेगनेंसी में दर्द हो रहा है तो अपने डॉक्टर को तुरंत फोन करें। गर्भपात के लक्षण और संकेत बिलकुल भी नकारे नहीं जाने चाहिए, ये भी ना सोचें की ये अपने आप चले जाएंगे, किसी भी दुविधा में अपने डॉक्टर से हमेशा बात करें।