प्रेगनेंसी में खाने से घृणा क्यों होती है?

Food aversions during pregnancy

प्रेगनेंसी के समय आप अपने पार्टनर को आइस क्रीम लाने के लिए भेज सकती हैं। आपको सुबह-सुबह नाश्ते में अचार खाने का मन कर सकता है, ऐसा प्रेगनेंसी में होता ही है।

लेकिन प्रेगनेंसी में कुछ खाने से नफरत भी हो जाती है। आपको शायद इस बारे में पता भी नहीं होगा लेकिन प्रेगनेंसी से पहले आपको जो खाना अच्छा लगता था वो इस समय आपको बुरा लग सकता है।

इन वजहों से आप अपनी पसंदीदा चीज़ नहीं खा सकती, और इन तरीकों से आप इस घृणा से निपट सकती हैं।

प्रेगनेंसी में कुछ खास खाने की चीज़ से घृणा क्यों होती है?

प्रेगनेंसी में आपको किसी चीज़ से नफरत हो सकती है, और इसका कारण होते हैं, बढ़ते हुए हार्मोन्स। जिन हार्मोन्स की वजह से आपकी प्रेगनेंसी रुकती है वो पहली तिमाही में हर दिन लगभग दुगनी गति से बढ़ते हैं। ये 11वें हफ्ते अपने शिखर पर चले जाते हैं। ऐसा होने से आपको जी मिचलने, कुछ खास खाने, या कुछ खास चीज़ से घृणा हो सकती है। लेकिन आपके हार्मोन्स से आपकी भूख पर लगातार असर पड़ता रहेगा।

आपकी खाने की प्रति घृणा के लिए हम जी मिचलने को दोष दे सकते हैं। एक अध्यन के अनुसार खाने के प्रति घृणा और जी मिचलने की समस्या लगभग सभी महिलाओं को एक साथ शुरू होती है। ऐसा एक ही हार्मोन की वजह से होता है। लेकिन ऐसा इसलिए भी हो सकता है क्योंकि आपके अनुसार आप जो खाती हैं उससे आपको उल्टी होती है।

खाने के प्रति घृणा अलग-अलग तिमाही में कैसे बदलती है?

आपको सबसे ज़्यादा खाने से घृणा पहली तिमाही में होगी, यही सभी प्रेगनेंट महिलाएं बताती हैं। लेकिन आपको प्रेगनेंसी में कभी भी किसी भी खाने से घृणा हो सकती है। आपको जो खाना पहले अच्छा लगता होगा वो एक दम से आपको बुरा लग सकता है। ज़्यादातर ये देखा गया है की खाने से आपको जो घृणा होती है वो बच्चे के पैदा होने के बाद चली जाती है। लेकिन खाने को लेकर ये घृणा आपको बच्चे के पैदा होने के बाद भी रह सकती है।

इस समय मुझे किस आहार से घृणा हो सकती है?

प्रेगनेंसी के दौरान आपको किसी भी खाने से घृणा या उसे खाने का मन कभी भी कर सकता है। आपको किसी भी समय ऐसा खाना लेने का खाने का मन हो सकता है जो आपको कभी ज़्यादा अच्छा नहीं लगा, वहीं दूसरी ओर आपको उस खाने से नफरत हो सकती है जो आपको हमेशा अच्छा लगा हो। लेकिन आमतौर पर उन्हीं खानों से घृणा होती है जिनकी खुशबू थोड़ा ज़्यादा आती है।

नीचे दिए गए आहार से महिलाओं को ज़्यादा घृणा होती है:

मीट

अंडे

दूध

प्याज़

लहसून

चाय और कॉफी

मसालेदार खाना

कुछ महिलाओं को ऊपर दिया खाने का मन भी करता है। आपको क्या अच्छा लग सकता है या क्या नहीं, ये कोई नहीं पता सकता है, और इसका आपकी प्रेगनेंसी डाइट से भी कुछ लेना नहीं है। प्रेगनेंसी में आपके अंदर हार्मोन्स से जुड़े काफी बदलाव होते हैं इसलिए जो खाना आपको पहले अच्छा लगता होगा वो इस समय आपको बुरा लग सकता है, और जो खाना बुरा लगता था वो इस समय आपका फेवरेट खाना बन सकता है।

प्रेगनेंसी में आप खाने के प्रति घृणा को कैसे संभाल सकती हैं?

वैसे आपको यही सलाह दी जाती है की आपका शरीर आपको जो कहे आप वही करें। इसका मतलब है की आपको जो खाने का मन करे वो खाएं और जो खाने का मन नहीं करे उससे दूर ही रहें। लेकिन हो सकता है की आपको जिस खाने से नफरत हो उसमें आपके लिए पोषण पदार्थ हों, आपको इस बात का ध्यान रखना है की आपको वो सभी पोषण कहीं ना कहीं से मिलें। उदाहरण के लिए अगर आपको मीट से घृणा हो गई है तो आपको बाकी चीजों जैसे बीन्स और हरी सब्जियों से आपको आपका प्रोटीन मिल जाएगा।

अगला कदम

प्रेगनेंसी में किसी चीज़ के प्रति इच्छा और घृणा बढ़ना दोनों ही काफी नॉर्मल है, इसलिए आपको इस बारे में ज़्यादा चिंता नहीं करनी है। लेकिन अगर आपको काफी खाने की चीजों से दिक्कत हो रही है तो इससे आपके बच्चे के विकास पर असर पड़ सकता है। अपने डॉक्टर के साथ इस बात को शेयर करें, और जानें की आप कैसे अपना स्वस्थ वज़न बढ़ा सकती हैं। आपके लिए ज़रूरी है की आप सभी पोषण और खनिज सही प्रकार से लें, क्योंकि आपको इस समय दो लोगों का खयाल रखना है, एक अपना और दूसरा अपने बच्चे का भी, अगर आपको खाने में ज़्यादा ही दिक्कत हो रही है तो आपके डॉक्टर आपको विटामिन और बाकी खनिज के सप्लिमेंट दे सकते हैं।

प्रेगनेंसी से जुड़ी और जानकारी के लिए हमारी एंगों हेल्थ एप यहाँ डाउनलोड करें।