प्रेगनेंसी ग्लो(चमक) को छोड़िए! सभी महिलाओं को रोसेसिया के बारे में जानना चाहिए

rosacea during pregnancy

प्रेगनेंसी के दौरान रोसेसिया: यह क्या है, और इसका कैसे इलाज़ करें?

गर्भवती महिला अपनी प्रेगनेंसी के दौरान प्रेगनेंसी ग्लो की उम्मीद करती है और सोचती है की वो उस समय कितना अच्छा दिखेगी, लेकिन जब वो इसकी जगह लाल निशान देखती है तो उसका दिल टूट जाता है।

इस लाल दाने के जैसे दिखने वाली चीज़ को रोसेसिया कहते हैं। हालांकि यह प्रेगनेंसी में ज़्यादा कॉमन नहीं है, फिर भी कुछ महिलाओं पर इसका असर पड़ता है।

रोसेसिया है क्या?

यह एक कॉमन स्किन की समस्या है जो 30 साल से ऊपर के लोगों में देखी जाती है, इसमें लाल निशान आपके गालों, नाक, ठोड़ी, और माथे पर पड़ते हैं। फिर ये लाल निशान छोटे धब्बों में बदल जाते हैं इसके साथ त्वचा के नीचे की रक्त-वाहिकाएँ साफ दिखाई देती हैं।

कई केस में देखा गया है की इनमें काफी चुभन होती है और आँखों में दर्द भी होता है। ये ज़्यादातर गर्दन, कान, सर, और छाती पर दिखाई देते हैं। कई केस में नाक सूजी हुई दिखती है और कभी-कभी अतिरिक्त त्वचा दिखाई देती है।

रोसेसिया किस वजह से होता है, खासकर प्रेगनेंसी में?

एक्सपर्ट को अभी इस बात का पता नहीं चला है की प्रेगनेंसी में रोसेसिया क्यों होता है। लेकिन डॉक्टर के अनुसार इस बुरी स्थिति की वजह हार्मोनल बदलाव हो सकता है, शुक्र है की यह टेम्पररी स्किन कंडिशन है। तनाव शायद इसकी एक और वजह होता है। कुछ डॉक्टर के अनुसार प्रेगनेंसी के दौरान रोसेसिया मात्र एक संयोग भी हो सकता है।

हालांकि यह किसी को भी हो सकती है, लेकिन कहा जाता है की जिन महिलाओं की हल्की त्वचा होती है और जिनकी स्किन जल्दी लाल होती, उन्हे रोसेसिया होने की ज़्यादा संभावना है।

यह भी कहा जाता है की 30 से 40% जिन महिलाओं को यह बीमारी होती है उनके किसी पास के रिश्तेदार को यह समस्या होती है। डॉक्टर यह भी कहते हैं की आपकी दिनचर्या से इससे फर्क पड़ता है, लेकिन त्वचा के कलर का इससे कोई देना-देना नहीं है।

रोसेसिया के संकेत और लक्षण

  • चेहरे की स्थायी लालिमा
  • चेहरे का हवा या सूरज के संपर्क में आने पर रंग बदलना
  • मुहासे होना और चेहरे का सपाट नहीं होना, और पिंपल में पस भर जाना
  • चेहरे का लाल होना
  • चेहरे का जलना
  • बढ़े हुए लाल निशान
  • आँखों में दर्द या चिड़चिड़ाहट
  • रक्त वाहिनियों को दिखना
  • त्वचा का मोटा होना
  • चेहरे का सूजना
  • नाक के पास त्वचा का बढ़ना

रोसेसिया में त्वचा का कैसे खयाल रखें?

अगर प्रेगनेंसी में रोसेसिया बढ़े तो अपनी त्वचा के खयाल रखने का रूटीन एडजस्ट करें। अगर आपकी त्वचा संवेदनशील है तो अच्छे क्लींज़र का इस्तेमाल करें। इस समय अपनी त्वचा को छूने, रगड़ने या खुजाने की कोशिश ना करें, इससे स्थिति और खराब हो सकती है। अगर आपकी त्वचा काफी संवेदनशील है तो ब्रॉड स्पेक्ट्रम वाली संसक्रीन का इस्तेमाल करें। उन प्रॉडक्ट का इस्तेमाल ना करें जिनमें एल्कोहल या नॉन-कोमेडोजेनिक हो।

अगर आपको लगे की आपमें रोसेसिया के कोई लक्षण हैं तो अपने डॉक्टर से मिलें- खासकर तब जब आप प्रेगनेंट हों या गर्भ धारण करने की कोशिश कर रही हों। अगर आपको पहले से ही यह समस्या हो, और आप प्रेगनेंट होने की कोशिश कर रही हों तो अच्छा है की आप दवाइयों के विकल्प के बारे में डॉक्टर से बात करें।