3d rendered medically accurate illustration of a fetus in week 32

अब आपका बच्चा 1.8 किलो भारी और लंबाई में 17 इंच है। भौ और पलकें व बाल अब सही तरीके से बढ़ गए हैं। लड़कों के अंडकोष अब अंडकोष की थैली में जा रहे हैं। कुछ स्थिति में बच्चे के दोनों अंडकोष जन्म से पहले थैली में नहीं जाते। बच्चा अपने पहले के बाल लनुगो अब आने वाले हफ्तों में तेज़ी से खोएगा।

आप बच्चे की गतिविधि में काफी बदलाव देख सकती हैं, ऐसा इसलिए होता है की बच्चे के लिए अब हिलने के लिए ज़्यादा जगह नहीं है। इन हफ्तों में बच्चा निगलने, सांस लेने और चूसने की प्रैक्टिस करता है। बच्चे का पाचन तंत्र अब पूरी तरह से विकसित हो गया है। चर्बी के बढ्ने के साथ-साथ बच्चा अब पारदर्शी नहीं रहता है।

32वें और 38वें हफ्ते के बीच बच्चा अपना सर नीचे की ओर कर लेगा, इस मुद्रा को जन्म की मुद्रा कहते हैं। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि जन्म के समय आपके बच्चे का सर गर्भाशय में नीचे की ओर सही तरीके से फिट होता है। इस समय बच्चा काफी सही तरीके से सोता है।