15 हफ्ते में आपका शरीर

आपकी प्रेगनेंसी 15 हफ्ते की पूरी हुई, या कह सकते हैं की अब आपका 16वां हफ्ता शुरू हो गया है।

आपके बच्चे का विकास

आपका बच्चा अभी इतना छोटा है की वो आपके हाथों में आ सकता है। आप अभी अपने बच्चे की हिचकी महसूस कर सकती हैं। अब बच्चे के पाँव उसके हाथों से बड़े हो रहे हैं और उसके जोड़ अब हिल सकते हैं।

आपके जीवन पर प्रभाव

प्रेगनेंसी का सबसे अच्छा अनुभव है अपने बच्चे की गतिविधि को महसूस करना। अब इस समय पहली बार अपने बच्चे की उपस्थिती महसूस करती हैं। आप इन गतिविधि को अपने पेट के निचले हिस्से में महसूस कर सकती हैं। इस बारे में अपने डॉक्टर को ज़रूर जानकारी दें। कुछ महिलाओं ने इस बात की जानकारी भी दी है की बच्चा काफी कम और काफी देरी से हिलता है, तो अगर आपने बच्चे को महसूस नहीं किया है तो चिंता मत करें।

इस समय आपके डॉक्टर आपको कुछ टेस्ट लिख सकते हैं, जिनसे यह पता चलेगा की बच्चे में कोई जन्मजात विकार हैं या सब ठीक है। इस समय एक स्क्रीनिंग टेस्ट भी हो सकता है, जिससे पता चलता है की बच्चे में एल्फा फेटोप्रोटीन का स्तर कैसा है। जिन महिलाओं की उम्र 35 से ऊपर है उनके लिए एमनिओसेंटीस टेस्ट भी लिखा जाता है, यह भी जन्म विकार बताता है। यह टेस्ट 14 से 18 हफ्तों के बीच लिखा जाता है। क्रोमोसोमल परेशानी के लिए टेस्ट करवाने का कोई सही समय नहीं है, लेकिन अगर कोई दिक्कत है तो आपके डॉक्टर आपसे इस बारे में विचार कर सकते हैं।

प्रेगनेंसी में आपका प्रतिरोधक तंत्र काफी कमजोर हो जाता है। इस समय आपको जुकाम की समस्या कुछ ज़्यादा ही हो सकती है, हालांकि इनसे आपके बच्चे को कोई नुकसान नहीं होगा। योनी का दाद, चेचक और खसरा आपके बच्चे को नुकसान दे सकता है। पहली तिमाही में आपके इन चीजों का टेस्ट होता है, इसके अलावा अगर आपको इनके कुछ लक्षण दिखें तो आपको अपने डॉक्टर से बात करनी चाहिए।